नई दिल्ली: बॉलीवुड एक्टरइरफान खान के निधन के बाद आज यानी 30 अप्रैल को बॉलीवुड इंडस्ट्री एक और बुरी खबर ऋषि कपूर (Rishi Kapoor) के निधन के साथ आई. पूरा देश इस चौंका देने वाली खबर से सक्ते में है. 70 के दशक के शानदार एक्टर ऋषि कपूर दुनिया छोड़ चले गए. सितंबर में कैंसर जैसी गंभीर बीमारी का इलाज करा कर ऋषि कपूर ने जब देश वापसी की तब हर किसी को लग रहा था कि अब वो ठीक हैं, लेकिन किसी को क्या मालूम थी कि ये सितारे अब अस्त होने वाला है. ऋषि कपूर ने अपने करियर में काफी उचांइयां देखीं लेकिन निजी जिंदगी में उनकी एक इच्छा अधूरी रह गई. इलाज करा कर जब ऋषि कपूर ने वापसी की तो लगा था उनका वो अधूरा सपना अब पूरा हो जाएगा ,लेकिन लॉकडाउन ने पूरा खेल बिगाड़ दिया. ऋषि कपूर का वो अधूरा सपना क्या था चलिए हम आगे बताते हैं. 

बेटे रणबीर कपूर की शादी देखना का सपना रह गया अधूरा:
दरअसल, ऋषि कपूर चाहते थे कि उनके रहते बेटे रणबीर कपूर की शादी हो जाए. कई बार ये खबर भी आई कि रणबीर के शादी की तारीख निकलने वाली है. फिल्म ‘ब्रह्मास्त्र’ की शूटिंग के चलते रणबीर के शादी की डेट आगे बढ़ती रही और फिर कोरोना संकट के चलते देशभर में लॉकडाउन हो गया. मीडिया रिपोर्ट की मानें तो ऋषि कपूर ने अपनी होने वाली बहू आलिया भट्ट से कई बार मुलाकात की. साथ डिनर भी किया, बस बेटे का घोड़ी चढ़ना और आलिया को दुल्हन के जोड़े में देखना रह गया था. ऋषि कपूर ने अपने इंटरव्यू में एक बार कहा था कि बेटे की शादी देखना बाकी रह गया है.’ पिता ऋषि कपूर का ये सपना पूरा ना कर पाने का मलाल यकीनन रणबीर कपूर को भी जरूर होगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here